Kisan Andolan: 22 वर्षीया छात्रा और जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि ने इस टूल किट में बदलाव किया था।
////

Kisan Andolan: चर्चित टूलकिट मामले में बेगलुरु से एक छात्रा गिरफ्तार, जानिए क्या था मामला

Kisan Andolan: किसानों के प्रदर्शन से जुड़ी टूलकिट सोशल मीडिया पर शेयर करने करने के आरोप में पुलिस ने एक छात्रा को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार करने के बाद उसको कोर्ट में पेश किया गया जहां से उन्हें 5 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया। कांग्रेस नेता और पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम ने इस गिरफ्तारी पर सवाल उठाते हुए केंद्र सरकार पर तंज कसा है।

दिशा रवि है जलवायु कार्यकर्ता

गिरफ्तार शख्स 22 साल की छात्रा दिशा रवि है, जो जलवायु कार्यकर्ता भी है। किसान आंदोलन के दौरान एक टूल किट को लेकर काफी वबाल मचा था। इसको स्वीडिश पर्यावरण कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग ने अपने ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया था, लेकिन बाद में उसे डिलीट कर दिया था। इस गिरफ्तारी पर कांग्रेस नेता और पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम ने तंज कसते हुए कहा क्या 22 साल की छात्रा देश के लिए खतरा बन गई ? उन्होंने ट्वीट कर कहा कि माउंट कार्मेल कॉलेज की 22 वर्षीया छात्रा और जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि राष्ट्र के लिए खतरा बन गई है, तो इसका मतलब है कि भारतीय राज्य बहुत ही कमजोर नींव पर खड़ा है।

दिशा रवि ने टूलकिट में किया था बदलाव

वहीं इस मामले में कहा जा रहा है कि दिशा रवि की गिरफ्तारी अभी सिर्फ शुरुआत है इस मामले में दो और संदिग्धों की तलाश में जुटी हुई है। टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार, इन संदिग्धों के नाम शांतनू और निकिता हैं। इनकी गिरफ्तारी को लेकर दिल्ली पुलिस की टीम मुंबई और कुछ अन्य जगहों पर छापेमारी कर रही है। बेंगलुरु से यह गिरफ्तार दिल्ली पुलिस के द्वारा की गई है। दिशा रवि पर आरोप है कि उसने किसानों से जुड़ी टूलकिट में कुछ बदलाव करके कुछ चीजें जोड़ी और फॉरवर्ड कर दिया था। जब ग्रेटा थनबर्ग ने इस टूलकिट को शेयर किया था, तब दिशा रवि ने ही ग्रेटा को इस बात के लिए चेताया था कि टूलकिट सार्वजनिक हो गया है। बाद में ग्रेटा ने इसको डिलीट कर दिया था और उसके बाद इसका एडिटेड वर्जन शेयर किया गया था।