//

Javed Akhtar: गीतकार जावेद अख्तर ने ‘सामना’ में हिंदूओं को लेकर कही यह बात

Start

Javed Akhtar: प्रसिद्ध पटकथा लेखक और गीतकार जावेद अख्तर ने कहा है कि हिंदू दुनिया में सबसे “सभ्य” और “सहिष्णु” बहुसंख्यक हैं। उन्होंने यह बात शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखे गए एक लेख में कही।

तालिबान से की थी RSS की तुलना

कुछ समय पहले जावेद अख्तर ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) और विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) की तुलना तालिबान से की थी। इसके बाद उनको कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा था। माना जा रहा है इसके बाद उन्होंने यह लेख लिखा है और अपने विचार व्यक्त किए हैं। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का नाम लिए बगैर कहा कि सीएम उद्धव ठाकरे के सबसे बुरे आलोचक भी उन पर किसी भी भेदभाव या अन्याय का आरोप नहीं लगा सकते।

शिवसेना ने की थी आलोचना

जावेद अख्तर ने 3 सितंबर को एक समाचार चैनल को दिए गए इंटरव्यू में कहा था कि “जैसे तालिबान एक इस्लामिक स्टेट चाहता है, वैसे ही जो हिंदू राष्ट्र चाहते हैं, वे एक ही मानसिकता के हैं। चाहे मुसलमान हों, ईसाई हों, यहूदी हों या फिर हिंदू।” उन्होंने कहा था, “बेशक, तालिबान बर्बर है और उनकी हरकतें निंदनीय हैं, लेकिन आरएसएस, विहिप और बजरंग दल का समर्थन करने वाले भी वही हैं।”

सामना से दिया जवाब

इसके बाद 6 सितंबर को सामना ने एक संपादकीय प्रकाशित किया था और जावेद अख्तर की सख्त लहजे में आलोचना करते हुए कहा था कि RSS-VHP को तालिबान से जोड़ना हिंदू संस्कृति का अपमान करने जैसा है। अब इस लेख के जरिए जावेद अख्तर ने कहा है कि उनको अपने बयान के बाद काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था इसलिए यह लेख सभी को जवाब देने का एक तरीका है।