////

अब वैक्सीनेशन प्रोग्राम में भी नंबर-1 बनेगा इंदौर, तोड़े कई रिकॉर्ड

कोरोना वैक्सीनेशन

इंदौर. शहर में वैक्सीनेशन का कार्य युध्द स्तर पर किया जा रहा है। इसी कारण इंदौर देश में वैक्सीनेशन की दौड़ में दूसरे नम्बर पर पहुंच गया है। शहर में पिछले दो महीनों के आकड़ों को पीछे छोड़ते हुए जून के 8 दिनों में ही 3 लाख 46 हजार शहरवासियों का वैक्सीनेशन किया जा चुका हैं।

शहर में 2 लाख 50 हजार लोगों को दोनों डोज लग चुके

इंदौर शहर हमेशा से स्वच्छता में नंबर वन रहा है और कोरोना महामारी में जीवन को बचाने में सबसे उपयोगी मानी जा रही वैक्सीनेशन में भी नंबर वन के पायदान पर आने के लिए अधिकारी युध्द स्तर पर कार्य करते हुए नजर आ रहे हैं। देश में इंदौर शहर वैक्सीनेशन को लेकर दूसरे पायदान पर हैं। वैक्सीनेशन को लेकर स्वास्थ्य विभाग अधिकारी प्रवीण जड़िया से चर्चा की गई तो उनका कहना था कि शहर में कलेक्टर की लीडरशिप के कारण ही आज शहर वैक्सीनेशन में बहुत बेहतर काम कर रहा है। अप्रैल माह में 4 लाख 15 हजार, मई माह में 4 लाख, इन्हीं आंकड़ों के पीछे करते हुए जून के केवल 8 दिनों में तीन लाख 46 हजार लोगों का वैक्सीनेशन किया जा चुका हैं। 5 जून तक 18 प्लस के 35 प्रतिशत युवाओं का वैक्सीनेशन किया जा चुका है। इसी के साथ 45 प्लस के लोगों का 80 प्रतिशत वैक्सीनेशन किया जा चुका हैं। शहर में 2 लाख 50 हजार लोगों को दोनों डोज लग चुके है तो वहीं अभी 13 लाख लोगों को पहला डोज लगाया जा चुका हैं। शहर में नगर निगम के 19 झोन सहित अन्य सामाजिक संगठनों द्वारा वैक्सीनेशन को लेकर किए जा रहे कार्य के कारण ही शहर में कोरोना से राहत मिलती नजर आ रही है।