///

इंदौर में खाकी ने कुछ इस अंदाज में सेलिब्रेट किया मदर्स डे, सालों पुराने रिश्ते में ऐसे घुली मिठास

इंदौर में खाकी ने कुछ इस अंदाज में सेलिब्रेट किया मदर्स डे

इंदौर |ये सच है कि माँ से बड़ा रिश्ता इस दुनिया मे कोई दूसरा नही होता है और इस सच को कोई झुठला भी नही सकता है। माँ का अपने बच्चो और बच्चो से अपने माँ के रिश्ते के समपर्ण के लिए हर दिन खास होता है लेकिन मदर्स डे पर खुशियां दोगुनी हो जाती है एक ऐसी ही माँ बेटे की जोड़ी देखने को मिली में जहां कोरोना काल मे एक पुलिस अफसर द्वारा बनाये गए आत्मीय रिश्ते की झलक कैमरे में कैद हो गई।

दरअसल, कोरोना को हाल ही में हराकर लौटे इंदौर के विजय नगर थाना प्रभारी तहजीब काजी ने हाल ही में अपनी जन्म देने वाली माँ के साथ कोरोना से जमकर जंग लड़ी थी और जिंदादिली के साथ वो अपनी माँ के साथ स्वस्थ होकर घर भी लौटे है। वही आज जो तस्वीरें सामने आई है उसमें टीआई तहजीब काजी की जिंदगी का एक और पन्ना खुलकर सामने आया है। जी हां पुलिस अफसर ने जन्म देने वाली माँ के लिए तो अपना फर्ज निभाया ही है साथ ही उन्होंने मुंह बोली माँ का भी कोरोना काल मे खूब ध्यान रखा और आज मदर्स डे के खास मौके पर अपनी उसी माँ के हाथो से केक कटवाया और माँ के हाथों ही केक को खाया भी। बता दे कि ये मुंहबोला रिश्ता अब दिल की गहराईयो तक जुड़ चुका है। 3 साल पहले जुड़े रिश्ते की शुरुआत भी दिलचस्प अंदाज में हुई थी जब तहजीब काजी इंदौर के तुकोगंज थाना क्षेत्र में पदस्थ थे उस वक्त सुहासिनी तलवार नाम की बुजुर्ग महिला के साथ धोखाधड़ी का केस हुआ था। बस इसी केस को सुलझाते हुए माँ और बेटे के एक नए रिश्ते ने जन्म ले लिया जिसे टीआई तहजीब काजी आज भी बखूबी निभा रहे है।

तहज़ीब काजी ने मुँह बोली माँ के साथ मनाया मदर्स डे

विजय नगर टीआई तहजीब काजी यशवंत निवास रोड़ स्थित अपनी मुंहबोली माँ सुहासिनी तलवार के घर केक लेकर पहुंचे और माँ के हाथों से केक भी खाया। कोरोना काल मे सुकून देने वाली तस्वीरे फिलहाल, सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। बुजुर्ग सुहासिनी तलवार के बच्चे नही है और वो टीआई तहजीब काजी को ही अपना बेटा मानती है। ऐसे में टीआई तहजीब काजी भी उनका पूरा ख्याल रखते है।

सुहासिनी तलवार ने कि काजी की तारीफ़

सुहासिनी तलवार ने बताया कि आज का दिन उनके लिए खास रहा और मुझे बहुत खुशी हुई और मैंने खूब आशीर्वाद दिया। वही टीआई तहजीब काजी ने बताया कि मदर्स डे होने के साथ ही वो कोरोना संकट के बीच अपनी माँ का हाल जानने पहुंचे और उन्हें वैक्सीनेशन के लिए भी कहा है। वही वो अपने इस खास रिश्ते की सेवा के लिए हमेशा त्तपर रहते है।