///

नहीं कराया वैक्सीनशन तो नहीं होंगे महाकाल के दर्शन, कलेक्टर ने जारी किया फरमान

उज्जैन। उज्जैन के महाकाल मंदिर को श्रद्धालुओं के लिए 28 जून से खोला जाएगा। इसको लेकर प्री बुकिंग फुल हो चुकी है। वहीं बिना वैक्सीनेशन वाले किसी भी श्रद्धालु को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। यह बात कलेक्टर आशीष सिंह ने मीडिया से चर्चा के दौरान शुक्रवार को कोठी महल पर कही है। कलेक्टर ने कहा कि श्रद्धालुओं के आने-जाने की व्यवस्था को लेकर कलेक्टर आज महाकाल मंदिर का निरीक्षण करेंगे।

कोरोना संक्रमण की अनलाक प्रक्रिया के तहत 28 जून से उज्जैन में विश्व के सबसे बडे ज्योर्तिलिंग भगवान महाकालेश्वर मंदिर को श्रद्धालुओं के लिए खोला जाएगा। जिसको लेकर प्रशासनिक स्तर पर तैयारियां पुरी हो चुकी है। हालांकि 28 जून को मंदिर खोले जाने से पहले ही प्री बुकिंग पुरी तरह से फुल हो चुकी है। लेकिन खास बात यह है कि बिना वैक्सीनेशन वाले किसी भी व्यक्ति को मंदिर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। कलेक्टर आशीष सिंह नेे इसको लेकर स्थिति स्पष्ट कर दी है। कलेक्टर ने कहा कि मंदिर में प्रवेश के लिए प्री बुकिंग करवाने वाले श्रद्धालु को वैक्सीनेशन का सार्टिफिकेट दिखाना अनिवार्य होगा। अगर श्रद्धालु वैक्सीनेशन का सार्टिफिकेट नहीं दिखा पाए तो पिछले 48 घंटे में कराई गई कोरोना की नैगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। बिना वैक्सीनेशन वाले श्रद्धालुओं को प्री बुकिंग के बावजुद भी प्रवेश नहीं मिलेगा। इसके साथ ही कलेक्टर ने कहा कि मंदिर में श्रद्धालुओं की आने जाने की व्यवस्था को लेकर वह आज दौरा करने के बाद निर्णय लेंगे।