//

पति पैर पकड़कर विनती करता रहा, पत्नी एक युवक के साथ बाइक पर बैठकर रवाना हो गई

Start

अलीगढ़। अलीगढ़ की अदालत में उस वक्त अजीब वाकिया सामने आया जब एक पति अपनी पत्नी के पैर पकड़कर गिड़गिड़ाने लगा, लेकिन पत्नी का दिल नहीं पसीजा और वह एक युवक के साथ चली गई।

पति की विनती पत्नी पर हुई बेअसर

कहा जाता है की परिणय संस्कार यानी विवाह जन्म-जन्मांतर का बंधन होता है और इसको सात जन्मों तक निभाया जाता है, लेकिन जब रिश्तों में तल्खी आ जाती है तो इस बंधन को टूटने में देर नहीं लगती है। ऐसा ही एक मामला अलीगढ़ की अदालत में सामने आया जब एक लाचार पति अपनी पत्नी के पैर पकड़कर गिड़गिड़ाता रहा, लेकिन पत्नी पर पति की गुहार का कोई असर नहीं हुआ। इस मसले को देखने के लिए भीड़ इकट्ठा हो गई और वह सबके सामने उसको छोड़कर एक युवक के साथ बाइक पर बैठकर चली गई।

पत्थर दिल बनी रही पत्नी

दंपति टप्पल से पारिवारिक विवाद के चलते आए थे। दंपत्ति के दो बच्चे हैं और दोनों के बीच पिछले कुछ समय से विवाद चल रहा है। दीवानी कचहरी के बाहर युवक ने पत्नी को रोक लिया और साथ चलने का आग्रह किया। करीब आधा घंटे तक युवक पत्नी से साथ चलने की मिन्नतें करता रहा। उसने बच्चों के भविष्य की भी दुहाई दी। काफी देर तक हंगामा होता रहा।लेकिन महिला दूसरे युवक की बाइक पर बैठकर मायके के लिए रवाना हो गई। बाद में युवक भी हताश होकर घर लौट गया।