Ex Boyfriend ने कैसे धकेला Vaishali Thakkar को मौत के मुंह में? जानिए पूरी कहानी

वैशाली ठक्कर 20 अक्टूबर को शादी करने वाली थी मगर इस तारीख से सिर्फ चार दिन पहले ही वैशाली ने इंदौर में ही अपने घर में पंखे से लटक कर खुदकुशी कर ली. जिस घर में वैशाली ने खुदकुशी की उस घर से बस कुछ ही दूरी पर उस शख्स का घर था जिसने वैशाली की खुशियों में आग लगाई थी. नाम है राहुल नवलानी.

राहुल नवलानी

इंदौर में ही उसका प्लाइवुड का बिजनेस है। राहुल के पिता और वैशाली के पिता बहुत पुराने दोस्त हैं. इसी वजह से दोनों परिवार का एक-दूसरे के घर भी आना-जाना था. दोनों परिवार रहते भी एक ही इलाके में थे. इसी आने-जाने के दौरान राहुल और वैशाली की दोस्ती हो गई.

करीब सात साल पहले मुंबई पहुंच गई. मुंबई में वैशाली का काम ठीकठाक चल रहा था. मगर तभी 2020 में कोरोना आ गया. पूरी दुनिया को परेशान करने वाले कोरोना ने वैशाली की भी ज़िंदगी बदलनी शुरू कर दी. कोरोना से पहले वैशाली का आखिरी टीवी शो रक्षाबंधन था. कोरेना की वजह से शहर के साथ-साथ काम भी बंद हो चुक था. लिहाज़ा वैशाली मार्च 2020 में मुंबई से इंदौर आ गई.

इंदौर आने के बाद वैशाली थोड़ी अपसेट थी. काम का यूं छूटना भी उसे दर्द दे रहा था. इसी बीच वैशाली की मां ने वैशाली के लिए एक लड़का ढूंढा नाम डॉक्टर अभिनंदन है वैशाली ने अभिनन्दन से सगाई कर ली बस इसी सगाई के बाद वैशाली की ज़िंदगी में भूचाल आ गया. डॉक्टर अभिनंदन के साथ सगाई की बात जैसे ही राहुल को पता चली उसने वैशाली को धमकाना शुरू कर दिया कि वो उसकी शादी किसी और से नहीं होने देगा. इस धमकी के बाद राहुल ने अब डॉक्टर अभिनंदन को वैशाली की कुछ आपत्तिजनक तस्वीरें और मैसेज भेजने शुरू कर दिए. इसी के बाद डॉक्टर अभिनंदन और वैशाली की सगाई टूट गई.

इसी सिलसिले में अहमदाबाद के रहने वाले मुकेश कुमार गौर से रिश्ते की बात चली और रिश्ता पक्का भी हो गया. मगर एक बार फिर वैशाली की खुशियों और रिश्तों में आग लगाने के लिए राहुल सामने आ गया. बीस अक्तूबर की शादी की बात राहुल को पता चल चुकी थी. राहुल ने मुकेश के बारे में भी पता लगा लिया था. रिश्ता तुड़वाने के लिए वो मकेश को भी वैशाली की कुछ तस्वीरें और मैसेज भेजने वाला था..काम की वजह से वैशाली पहले से ही परेशान थी. एक रिश्ता पहले ही टूट चुका था. दोबारा फिर वही सारी चीजें उसे सामने नज़र आने लगीं. इसी के बाद 15 और 16 अक्तूबर की रात उसने आठ पन्नों का सुसाइड नोट लिखा और फिर पंखे से फांसी लगाकर झूल गई.

वैशाली के इस आखिरी खत ने ही पुलिस को राहुल और उसकी बीवी दिशा का पता दिया. मगर वो दोनों तो वैशाली की मौत की खबर सुनते ही घर छोड़कर भाग चुके थे. उनकी गिरफ्तारी के लिए कई टीमें बनाई गई थीं. और आखिरकार राहुल को इंदौर पुलिस ने गिरफ्तार कर ही लिया.