//

ChakkaJam Live: शांतिपूर्ण तरीके से समाप्त हुआ चक्काजाम, , जानिए ताजा हालात

Start

ChakkaJam Live: सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ पिछले दो माह से ज्यादा समय से धरने पर बैठे किसानों का चक्काजाम शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हो गया हैं। गणतंत्र दिवस पर बवाल के बाद अब पुलिस काफी चौकस है और अपनी पैनी निगाह दिल्ली के चप्पे-चप्पे पर रख रही है।

दिल्ली में 50 हजार जवान तैनात

आदोलनकारी किसानों ने आज अपनी मांगों को लेकर चक्काजाम का एलान किया है। ऐसे में सभी की निगाहें दिल्ली-एनसीआर पर टिकी हुई थी। गणतंत्र दिवस पर किसानों ने ट्रैक्टर रैली का आयोजन किया था और उस वक्त किसान नेताओं ने शांतिपूर्ण प्रदर्शन का वादा दिल्ली पुलिस से किया था, लेकिन इसके बावजूद सभी सीमाएं पार कर किसानों ने काफी उपद्रव मचाया था। अब पुलिस आज के चक्काजाम को लेकर काफी चौकस है और चप्पे-चप्पे पर नजर रख रही है। आज के चक्काजाम में किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए दिल्ली में 50 हजार जवान तैनात किए गए हैं।

उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में नहीं होगा चक्काजाम

किसानों के इस चक्का जाम को विपक्षी पार्टियों का समर्थन मिला हुआ है। हालांकि, चक्का जाम का कोई भी असर राजधानी दिल्ली में नहीं होगा। किसान नेताओं ने कहा है कि दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में शनिवार को चक्का जाम नहीं होगा। किसान देश के दूसरे हिस्सों में शांतिपूर्ण तरीके से तीन घंटे के लिए राष्ट्रीय और राज्य के राजमार्गों पर चक्काजाम करेंगे। ‘चक्का जाम’ शनिवार को दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक किया जाएगा। भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि शनिवार को उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में चक्का जाम नहीं किया जाएगा।

12 मेट्रो स्टेशनों को रखा अलर्ट पर

दिल्ली में देशव्यापी चक्काजाम को देखते हुए कम से कम 12 मेट्रो स्टेशनों को अलर्ट पर रखा गया है। पुलिस ने दिल्ली मेट्रो के अधिकारियों को खत लिखकर जरूरत पड़ने पर राजीव चौक, केंद्रीय सचिवालय समेत इलाके के 12 मेट्रो स्टेशन शॉर्ट नोटिस पर बंद करने के लिए तैयार रहने को कहा है। इसके साथ ही टिकरी, सिंघु और गाजीपुर बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। आईटीओ पर पुलिस के साथ पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों को तैनात किया गया हैं। दिल्ली की सीमा पर कई लेयर की बैरिकेडिंग की गई है।