//////

मुरैना जहरीली शराब कांड: सख्त हुई सरकार, अब इस तरह से खुलेंगे मयखाने

अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा ने सरकार को इस मामले को लेकर रिपोर्ट सौंप दी है।

भोपाल। मुरैना में हुए जहरीली शराब कांड के बाद सरकार सख्ती के मुड में है। पूरे मामले में प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि सीएम से आग्रह किया जाएगा कि जहां शराब की दुकाने दूर है वहां दुकान खोली जाए जिससे अमानक शराब की बिक्री पर रोक लग सके।

अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा ने सौंपी रिपोर्ट

मुरैना जहरीली शराब कांड में अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा ने सरकार को रिपोर्ट सौंप दी है, इस मामले में सरकार ने जांच के लिए एसआईटी टीम गठित की थी, जिसके बाद अपर मुख्य सचिव राजेश राजौरा के नेतृत्व में तीन वरिष्ठ अधिकारियों ने 2 दिन तक मौके पर जाकर पूरे मामले की तफ्तीश की थी। रिपोर्ट मिलने के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने चर्चा के लिए डीजीपी को मुख्यमंत्री आवास पर बुलाया है, जिसको लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि आज बैठक है चार बजे सीएम से आग्रह किया जाएगा कि जहां शराब की दुकाने दूर है वहां दुकान खोली जाए जिससे अमानक शराब की बिक्री पर रोक लग सके।

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कांग्रेस पर किया कटाक्ष

वही कांग्रेस द्वारा चलाए जा रहे किसान आंदोलन पर उन्होंने कहा है कि पहले से ही टुकड़े टुकड़े गैंग मौजूद है उस आंदोलन से जुड़े लोग कह रहे हैं कि आंदोलन के लिए पैसे मिले हैं। मध्य प्रदेश में कानून का राज है और उसके हिसाब से ही काम होगा। गौरतलब है मुरैना में जहरीली शराब पीने से 25 लोगों की मौत हो गई और कुछ लोगों की आंखों की रोशनी चली गई है।