///

कोरोना वैक्सीन के वितरण में सरकार ले सकती है चुनाव आयोग की मदद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीन के वितरण को लेकर राज्यों से भी सुझाव मांगे हैं।

नई दिल्ली। कोरोना वैक्सीन का इंतजार कर रहे लोगों को जल्द खुशखबरी मिल सकती है। विशेषज्ञों के अनुसार अगले एक या दो महीने में कोरोना वैक्सीन मिल सकती है। वहीं सरकार ने कोरोना वैक्सीन के वितरण को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं।

सरकार चुनाव आयोग की लेगी मदद

सूत्रों के अनुसार सरकार कोरोना वैक्सीन के वितरण में चुनाव आयोग की मदद भी ले सकती है। चुनाव आयोग की पहुंच देश के हर हिस्से और हर तबके तक है. ऐसे में चुनाव आयोग की मदद से सरकार वैक्सीन को हर शख्स तक पहुंचा सकती है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीन के वितरण को लेकर राज्यों से भी सुझाव मांगे हैं. सरकार वैक्सीन हर हिंदूस्तानी तक पहुचाने के लिए एक कार्ययोजना बना रही है। सरकार की योजना अलग अलग उम्र के लोगों तक अलग अलग चरण में कोरोना वैक्सीन देने की है।

चुनाव आयोग के पास है लोगों की जानकारी

चुनाव आयोग के पास ज्यादातर देशवासियों की उम्र की विश्वसनीय जानकारी है, जिसका उपयोग सरकार वैक्सीन के वितरण के दौरान कर सकती है. सरकार इस काम में बूथ लेवल ऑफिसर्स (BLO) की भी मदद ले सकती है. सरकार की यह कोशिश है कि इस तरीके से वह हर घर तक वैक्सीन की पहुंच बना सकती है. नीति आयोग की ओर से इसको लेकर एक विस्तृत प्रपोजल बनाया जा रहा है, जिसके तहत चुनाव आयोग से इस मसले पर चर्चा की जाएगी और फिर इस काम को आगे बढ़ाया जाएगा.