Mradhubhashi
Search
Close this search box.

जल्द जेल से रिहा होंगे गौतम, गोलीकांड में सजा के बाद थे जेल में बंद

जल्द जेल से रिहा होंगे गौतम, गोलीकांड में सजा के बाद थे जेल में बंद

घाटाबिल्लोद गोलीकांड : उच्च न्यायालय से मनोज गौतम, राकेश गौतम और राजेश पटेल को मिली जमानत

आशीष यादव/धार/गोलीकांड – ग्राम घाटाबिल्लौद में हुए गोलीकांड हमले के प्रकरण में शामिल कांग्रेस नेताओं को उच्च न्यायालय से जमानत मिल गई हैं, कांग्रेस नेता मनोज सिंह गौतम, राकेश गौतम व राजेश पटेल को कोर्ट ने पूर्व में दी नेताओं को मिली बेल की शर्तों को आधार मानते हुए जमानत दी है। इस प्रकरण में शामिल पूर्व विधायक बालमुकुंद सिंह गौतम व उनके साथियों को दो दिन पहले ही जमानत दी गई थी, जिसके बाद कयास लगाए जा रहे थे, कि इन नेताओं को भी कोर्ट जमानत देगा।

जल्द ही तीनों नेता जेल से बाहर आएंगे। इस पूरे विवाद में कांग्रेस के कार्यकर्ता बबलु चौधरी की गोली लगने से मौत हुई थी। पूर्व विधायक गौतम स्वर्गीय बबलु चौधरी के धार स्थित निवास पर पहुंचे। यहां गौतम ने परिवार की हौसला अफजाई की। गौतम ने कहा कि मेरी तरह हिम्मत रखिये। न्यायालय से हमें न्याय जरूर मिलेगा।

गोलीकांड, यह था मामला :

दरअसल कांग्रेस नेता बालमुकुंद सिंह गौतम व जिला पंचायत सदस्य रह चुके चंदनसिंह सुनैर में फैक्ट्रियों में यूनियन के वर्चस्व को लेकर विवाद लंबे समय से चल रहा था बताया जाता है कि कांग्रेस के चंदनसिंह और बालमुकुंदसिंह गौतम दोनों की फैक्ट्रियों में अपनी-अपनी यूनियन के लोग हैं। इन फैक्ट्रियों की यूनियन पर कब्जे आदि को लेकर उनके बीच में मतभेद थे। इसके अलावा राजनीतिक रूप से इनमें वर्चस्व के लिए शक्ति प्रदर्शन होता रहता था।

यह (गोलीकांड) विवाद ही बाद में हत्या के प्रकरण में तब्दील हो गया, घटना (गोलीकांड) के दौरान कांग्रेस नेता बालमुकुंद सिंह गौतम कांग्रेस के जिला अध्यक्ष हुआ करते थे। घटना दिनांक 02 जून 2017 को धार व इंदौर जिले की बॉर्डर घाटाबिल्लोद क्षेत्र में दोनों पक्षों में विवाद हुआ था। इस मामले में हत्या की धारा में गौतम की और से प्रकरण दर्ज करवाया था, वहीं दूसरा प्रकरण सुनैर की और से प्राणघातक हमले को लेकर दर्ज करवाया था।

इन दोनों प्रकरणों की सुनवाई इंदौर में एलएलए कोर्ट में हुई थी, जहां से सुनैर सहित अन्य लोगों को प्रकरण से बरी कर दिया गया था। साथ ही गौतम के साथियों को सजा सुनाते हुए जेल भेज दिया गया था। जिसको लेकर गौतम के अभिभाषक उच्च न्यायालय गए थे, अधिवक्ता नीलेश शर्मा के अनुसार सभी को न्यायालय ने जमानत दे दी है।

जल्द जेल से रिहा होंगे गौतम, गोलीकांड में सजा के बाद थे जेल में बंद

चुनाव का बदलेगा समीकरण :

गौतम व उनके साथियों के बाहर आने के बाद धार जिले की दो विधानसभाओं के राजनैतिक समीकरण बदल जाएंगे, धार व बदनावर दोनों जगह‍ गौतम का दबदबा है। इन दोनों ही सीटों पर गौतम व उनके परिवार के लोग दावेदारी कर रहे हैं, ऐसे में भाजपा के उम्मीदवारों को सीधे टक्कर गौतम से मिलेगी।

ये भी पढ़ें...
क्रिकेट लाइव स्कोर
स्टॉक मार्केट