//

प्रदेश के गौरव विवेक के लिए राज्य सरकार ने की उपहारों की बौछार

भोपाल। टोक्यो ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीतने वाले भारतीय हॉकी टीम के खिलाड़ी विवेक सागर का गुरुवार को भोपाल के मिंटो हॉल में सम्मान किया गया। इस दौरान सीएम शिवराज ने हॉकी खिलाड़ी विवेक को एक करोड़ वहीं हॉकी कोच शिवेंद्र को 25 लाख रुपये की सम्मान राशि दी।

हाकी खेलते तो पिता जी डांटते थे मगर विवेक नही माने

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विवेक को राज्य सरकार की तरफ से डीएसपी बनाने की घोषणा के साथ शिवेंद्र के परिजनों को राज्य सरकार की तरफ से मकान उपलब्ध कराने की बात कही। सीएम ने कहा बचपन में जब विवेक हाकी खेलते तो उनके पिता जी डांटते थे मगर विवेक नही माने वह जुनून के साथ खेलते रहे और आज उन्होंने देश का गौरव बढ़ाया है। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि उनके माँ और पिता जी को में प्रमाण करता हूँ। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मौके पर हाकी कोच शिवेंद्र के परिजनों को राज्य सरकार की जानिब से मकान उपलब्ध कराने की घोषणा की। सीएम ने कहा कि हमे ऐसे लोगो का सम्मान करना है ताकि ऐसे खिलाड़ी पैदा होते रहें। इसी के साथ राज्य सरकार की तरफ से विवेक सागर को डीएसपी बनाया गया है। सीएम शिवराज ने खेल मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया की भी तारीफ़ की।

अब सरकारें भी अपनी तरफ से भरपूर प्रयास करेगी

मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि बतादें की टोक्यो ओलंपिक्स में जिस प्रकार भारतीय खिलाडियों के संघर्ष की कहानी सामने आयी है और जो जज्बा खलाड़ियोंम ने दिखाया है उससे से यह साफ़ लगता है कि अब सरकारें भी अपनी तरफ से भरपूर प्रयास करेगी। वहीं खेलो इंडिया खेलो मध्यप्रदेश के अभियान के तहत गांव गांव से खिलाड़ियों अच्छे खिलाडियों को खोजा जायेगा। और अब खिलाड़ियों के विकास में कोई बांधा नही रहने दी जाएगी।

कोच अशोक ध्यानचंद का भी मुख्यमंत्री ने सम्मान किया

खिलाड़ियों के अलावा कोच अशोक ध्यानचंद का भी मुख्यमंत्री ने सम्मान किया। खिलाड़ियों की सम्मान राशि उनके बैंक खातों में सीधे पहुंच जाएगी। इस मौके पर सीएम ने कहा- यशोधरा खेल में ऐसी फिट हैं। जैसे अंगूठी में नगीना. विवेक ने एमपी और पूरे देश का गौरव बढ़ाया। विवेक का हम स्वागत-अभिनंदन करते हैं। उन्होंने कहा कि हमने तीन पेड़ लगाए। ये पेड़ लगाए हॉकी के पुर्नजागरण के लिए। इन खिलाड़ियों के लिए जो भी सुविधाएं चाहिए होंगी वो सब देंगे।