//

बिजली बिलों में हो सुधार, अघोषित कटौती की जाए बंद- महेन्द्र सिंह चौहान

भोपाल- प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री डॉ. महेन्द्र सिंह चौहान ने बिजली, सड़क, पानी, स्वास्थ्य, महंगाई, बेरोजगारी जैसी जनता की अनेकों समस्याओं को लेकर आज तीसरे दिन भी पदयात्रा, धरना-प्रदर्शन कर विरोध जताया। चौहान ने इस अवसर पर राज्यपाल के नाम संबोधित ज्ञापन सौपते हुए विद्युत विभाग से जुड़ी अनेक समस्याओं के निराकरण की मांग की।

जिला शहर कांग्रेस अध्यक्ष कैलाश मिश्रा ने कहा कि घरेलू और व्यावसायिक विद्युत उपभोक्ता को निर्धारित दरों से अधिक के अनाप-शनाप बिल थमाये जा रहे हैं, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति डगमगा रही है। सरकार सीधा-सीधा बोझ जनता पर डाल रही है। उन्होंने कहा कि विद्युत विभाग द्वारा बिना किसी सूचना के अत्यधिक विद्युत कटौती कर गरीब-मध्यमवर्गीय जनता को प्रताड़ित किया जा रहा है। तीन रूपये की बिजली नौ रूपये में, गैस की टंकी 900 में और पेट्रोल-डीजल 110 और 100 में, ऊपर से खाद्य पदार्थाें में महंगाई की मार, आखिर कब तक जुल्म सहेगी जनता। उन्होंनो कहाँ कि ऐसी शिवराज सरकार पर है धिक्कार, जिसके राज में बिजली संकट और महंगाई हो अपार हो।