///

उज्जैन के हरसिद्धि मंदिर में हुआ चमत्कार, भक्तों ने देखा अदभुत नजारा

उज्जैन के हरसिद्धि मंदिर की दीपमाला अचानक जल उठी।

उज्जैन। धार्मिक नगरी उज्जैन में ऐसे तो कई चमत्कार देखने को मिलते हैं क्योंकि उज्जैन को विस्मयकारी नगरी भी कहा जाता है। ऐसा ही चमत्कार आज एकाएक हरसिद्धि मंदिर की दीपमाला का  मुख्य  दीप जलने से हुआ है। माना जा रहा है कि इस तरह के चमत्कार माता कभी कभार ही दिखलाती है।

विक्रमादित्य की कुलदेवी हैं हरसिद्धि

विश्व प्रसिद्ध बाबा महाकाल की  नगरी में  यूं तो कई देवियों के मंदिर स्थापित है।  उज्जैन के महाकाल मन्दिर के  समीप ही विक्रमादित्य की कुलदेवी हरसिद्धि मां विराजित है, जो साक्षात श्रद्धालुओं को दर्शन देती हैं हरसिद्धि मंदिर में यूं तो कई चमत्कार देखने को मिलते हैं, लेकिन गुप्त नवरात्रि के समापन के बाद विक्रमादित्य की कुलदेवी हरसिद्धि देवी के मंदिर में दीपमाला के ऊपरी हिस्से का मुख्य दीप अपनेआप प्रज्वलित होने का चमत्कार देखने को मिला है।

अपने आप प्रज्वलित हुआ दीप

जिसने भी हरसिद्धि मंदिर में दीप को स्वयं प्रज्वलित होते हुए देखा, वह साक्षात मां हरसिद्धि के इस चमत्कार के सामने नतमस्तक हो गया। वैसे तो रोजाना शाम को होने वाली संध्या आरती में दोनों दीपमालाएं जलाई जाती है, लेकिन माता के चमत्कार से दिन में इस तरह जलते हुए दिए का दिखाई देना , माता का दर्शन रूप ही माना जा रहा है। हरसिद्धि मंदिर के पुजारी राजेंद्र गिरी ने बताया कि माता अपने भक्तों को दर्शन देने के लिए इस तरह के चमत्कार दिखलाती रहती है पूर्व में भी दीप इस तरह अचानक प्रचलित हुआ है, जबकि दीपमाला है संध्या आरती में जलाई जाती है

हरसिद्धि मंदिर में लगी दीपमाला में से एक मुख्य दीप के प्रज्वलित होने और उसके दर्शन करने के पास हर कोई अपने आपको धन्य समझ रहा है श्रद्धालुओं ने बताया कि प्रतिदिन शाम को दीपमाला जलाई आती है लेकिन आज अपने आप ही दिन में दीप प्रचलित हुआ है करीब आधे घंटे तक दीपमाला का मुख्य दीप प्रज्वलित रहा है।