//

पूर्व सरपंच ने सरपंच-सचिव पर कार्रवाई की मांग की

ग्राम पंचायत

बुरहानपुर. प्रदेश की सबसे बड़ी एमार्गिद की पंचायत में वित्तीय अनियमितता व भ्रष्टाचार के मामले में सरपंच-सचिव के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है। पूर्व सरपंच व पंचों ने सरपंच-सचिव पर आरोप भी लगाए हैं और जिला प्रशासन से कार्रवाई की मांग की है।

मनरेगा मजदूरों को पंचायत का सफाईकर्मी बताकर वेतन निकाल रहे

शुक्रवार को पूर्व सरपंच ई अजहर-उल-हक ने प्रेसवार्ता लेकर इस संबंध में जानकारी दी। अजहर-उल-हक ने बताया धनराज मोतीराम माली निवासी लोधीपुरा खेती करते हैं और पंचायत में किसी पद पर नहीं हैं। 3 माह में पंचायत ने उनके खाते में 2 लाख 24 हजार 400 रुपए का भुगतान किया हैं। मनरेगा मजदूरों को पंचायत का सफाईकर्मी बताकर वेतन निकाल रहे हैं। ये मजदूर मनरेगा में भी काम कर रहे हैं।