///

हिरन किए गए क्वारंटीन, पौष्टिक आहार के साथ दी जा रही है मल्टी विटामिन दवाइयां

Start

Coronavirus: इंसानों में तबाही मचाने वाली जानलेवा महामारी ने जानवरों को भी अब अपना निशाना बना रही है। पिछले दिनों हैदराबाद के चिड़ियाघर में शेरनियों और इटावा लॉयन सफारी में शेरों में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए थे। अब नवाबगंज पक्षी विहार में हिरणों को क्वारंटीन जोन में भेजने के निर्देश दिए गए हैं।

शेरों के संक्रमित होने के बाद लिया फैसला

कोरोना संक्रमण की दहशत के बीच नवाबगंज पक्षी विहार में हिरनों को क्वारंटीन कर दिया गया है। हिरनों तक संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए उनके केअर टेकर को भी क्वारंटीन किया गया है। हिरनों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए उनके खाने में भी बदलाव किया गया है। इटावा लॉयन सफारी में शेरों के संक्रमित पाए जाने के बाद नवाबगंज पक्षी विहार के लिए अलर्ट जारी किया गया था। पक्षी विहार के हिरणों को क्वारंटीन जोन में भेजने के साथ डियर पार्क को बन्द कर दिया गया है।

29 हिरन किए गए क्वारंटीन

10 हेक्टेयर में बने इस डियर पार्क में फिलहाल 29 हिरन हैं। पक्षी विहार के अधिकारी ने बताया कि हिरणों और उनके स्टाफ को आइसोलेट करने के साथ पार्क में एक-एक कर्मचारी की दो शिफ्ट में ड्यूटी लगाई गई है। कोरोना से बचाव के लिए हिरणों को पौष्टिक आहार और मल्टी विटामिन दवाइयां समय-समय पर दी जा रही हैं। संक्रमण फैलने को रोकने के लिए पक्षी विहार के सुरखाब रेस्टोरेंट को भी बन्द कर दिया गया है। इसके साथ ही वन्य जन्तु विभाग के झील परिसर में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं।

एक साल में दूसरी बार हुए क्वारंटीन

कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ पर्यटकों की भी पक्षी विहार में आवाजाही काफी कम है और पिछले एक माह से सन्नाटा पसरा हुआ है। पक्षी विहार में हिरणों को एक साल में दूसरी बार क्वारंटीन किया गया है। इससे पहले मई 2020 में भी हिरणों के पूरे कुनबे को क्वारंटीन कर दिया गया था।