////

Coronavirus: WHO ने कहा,’ भारत का कोरोना वैरिएंट बना चिंता का विषय’

Start

Coronavirus: भारत में कोरोना वायरस ने तबाही मचा रखी है। हर तरफ कोहराम मचा हुआ है और हर कोई सलामती की दुआ मांग रहा है। कोरोनी की दूसरी लहर देश के लिए काफी घातक सिद्ध हुई है। अब तक लाखों लोग इससे काल के गाल में समा चुके हैं। अब विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी कोविड-19 के भारतीय वैरिएंट को लेकर चौंका देने वाला बयान दिया है।

मूल वायरस से है ज्यादा खतरनाक

भारत में रोजाना 3 लाख से ज्यादा कोरोना केस सामने आ रहे हैं। सोमवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोविड-19 के भारतीय वैरिएंट को लेकर सनसनीखेज बयान दिया है। WHO ने कहा कि भारत में फैल रहा कोरोना वैरिएंट काफी संक्रामक प्रतीत हो रहा है.और इसलिए इसको “चिंता का विषय” श्रेणी में वर्गीकृत किया गया है। कोविड-19 का B.1.617 वैरिएंट पहली बार भारत में पिछले सालअक्टूबर में पाया गया था। यह वैरिएंट वायरस के ओरिजिनल वैरिएंट की तुलना में ज्यादा आसानी से फैल रहा है और संभवतः वैक्सीन के प्रति इसकी प्रतिरोधक क्षमता भी ज्यादा है।

चिंता का विषय है ये वैरिएंट

कोविड-19 पर रिसर्च कर रही डब्ल्यूएचओ की वैज्ञानिक मारिया वान केरकोव के मुताबिक कोरोना का B.1.617 वैरिएंट का संक्रमण तेजी से फैल रहा है इसलिए हम इसे वैश्विक स्तर पर चिंता का विषय के रूप में वर्गीकृत कर रहे हैं, मंगलवार को डब्ल्यूएचओ के कोविड-19 पर होने वाली साप्ताहिक बैठक में इसके संबंध में और जानकारी दी जाएगी। कोरोना वायरस की दूसरी लहर देश के लिए काफी विनाशकारी सिद्ध हुई है। शहरों से आगे निकलकर अब इसने गांवों में भी अपने पैर पसार लिए हैं।