////

Coronavirus: कोरोना काल में गूगल ने की जबर्दस्त कमाई, वर्क फ्रॉम होम से बचाए 7400 करोड़ रुपये

Start

Coronavirus: कोरोना वायरस ने दुनियाभर की अर्थव्यवस्था को अस्त-व्यस्त कर दिया है। लंबे समय तक चलने वाले लॉकडाउन से कारोबारी दुनिया खस्ताहाल हो गई है। मंदी आने से लाखों लोगों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा है और कई कंपनियां भी बंद हुई है। ऐसे में नामचीन कंपनी गूगल ने शानदार मुनाफा कमाया है। यह प्रॉफिट कंपनी ने अपने कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम देकर कमाया है।

कंपनियों में बढ़ा ‘वर्क फ्रॉम होम’ का कल्चर

कोरोना महामारी ने देश-विदेश में कामकाज के मायनों को बदल कर रख दिया है। ज्यादातर कर्मचारी ऑफिस जाने की बजाय घर से काम कर रहे हैं। इस तरह से दुनियाभर में ‘वर्क फ्रॉम होम’ का कल्चर बढ़ गया है। कार्य करने के इस तरीके से कंपनियों की अब कर्मचारियों पर लागत घट गई है और दुनिया की तमाम प्रसिद्ध कंपनियों को परिचालन पर पहले की तुलना में कम खर्च करना पड़ रहा है। टेक्नोलॉजी की टॉप कंपनी गूगल को भी वर्क फ्रॉम होम के कारण से पिछले एक साल में 7400 करोड़ रुपये का लाभ हुआ है।

कर्मचारियों के खर्चों में आई कमी

गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट इंक. के अनुसार साल 2020 में विज्ञापन और प्रमोशनल खर्चों में 1.4 बिलियन डॉलर की कमी दर्ज की गई है। कंपनी ने कोरोना के दौरान खर्चों को काफी घटाया है, कैंपेन को रीशेड्यूल किया. कुछ इवेंट्स को केवल डिजिटल फॉर्मेट में चेंज कर दिया है। ऐसे में यात्रा और मनोरंजन खर्च 371 मिलियन डॉलर कम हो गया है। गूगल अपने कर्मचारियों का काफी ख्याल रखती है इसलिए उनके मनोरंजन और आराम पर काफी खर्च करती है, लेकिन वर्क फ्रॉम होम की वजह से इस खर्च की बचत हो रही है। गूगल के . चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर रूथ पोराट ने निवेशकों को बताया कि कंपनी एक ‘हाइब्रिड’ मॉडल की योजना बना रही है,