Corona Second Wave: महिला पुलिस कॉन्स्टेबल की विवाह की रस्म को थाने में संपन्न किया गया।
//

Corona Second Wave: पुलिस थाने में लगी महिला पुलिस को हल्दी और गाए गए मंगल गीत, ये है खास वजह

Corona Second Wave: कोरोना वायरस ने इंसान के रोजाना की दिनचर्या को प्रभावित किया है। रस्म-रिवाज से लेकर कारोबार और दूसरे सभी कामकाज इस वायरस की वजह से प्रभावित हुए हैं। ऐसे में लोग वैवाहिक समारोह से लेकर अंतिम संस्कार तक सीमित लोगों के साथ विशेष तरीके से करने में लगे हुए हैं। ऐसा ही एक वाकिया राजस्थान से सामने आया है, जहां पर थाने में विवाह की रस्म निभाई गई।

कॉन्स्टेबल आशा डूंगरपुर कोतवाली में है तैनात

वैवाहिक रस्मों को थाने में निभाने का ये मामला राजस्थान की डूंगरपुर कोतवाली का है, जहां पर एक महिला पुलिस कॉन्स्टेबल की विवाह की रस्म को थाने में संपन्न किया गया। कोरोना वायरस के कहर की वजह से लगी पाबंदियों की चलते हल्दी रस्म को थाने में निभाया गया। महिला पुलिस कॉन्स्टेबल आशा डूंगरपुर कोतवाली में तैनात है और राज्य में जगह-जगह लॉकडाउन की वजह से उनको विवाह समारोह में हल्दी की रस्म के लिए छुट्टी नहीं मिल पाई। इसलिए थाने में साथी पुलिसवालों ने इस रस्म को निभाया और मंगल गीत गाए।

शादी के लिए मिल गई है छुट्टी

महिला पुलिस कॉन्स्टेबल आशा का कहना है कि उनकी शादी पिछले साल मई में ही होने वाली थी, लेकिन देशव्यापी लॉकडाउन और कोरोना की वजह से उस वक्त भी स्थगित कर दी गई थी। इस साल उनकी शादी 30 अप्रैल को होने वाली है। हालांकि, लॉकडाउनके कारण अभी वह ड्यूटी पर ही हैं और यही वजह है कि जब हल्दी की रस्म के लिए उन्हें छुट्टी नहीं मिली तो थाने में ही इसका आयोजन कर रस्मों को विधि-विधान से निभाया गया। आशा की हल्दी की रस्म में साथी पुलिस वालों ने परिजन की भूनिका निभाई। वहीं आशा को अब शादी के लिए छुट्टी मिल गई है।