//

Budget 2021: आयकर की दरों में कोई बदलाव नहीं, 75 साल से ऊपर के बुजुर्गों को मिली सौगात

Budget 2021: मोदी सरकार की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने साल 2021-22 का आम बजट पेश किया। कोरोना से प्रभावित अर्थव्यवस्था में स्वास्थ्य सेवाओं का खास ख्याल रखा गया और उसके लिए बजट में प्रावधान भी अच्छा रखा गया। बजट में आयकर की दर में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है। इस तरह से आयकरदाताओं को बजट से मायूसी हुई है।

75 साल से ऊपर के बुजुर्गों को मिली सौगात

डिजिटल तरीके से पेश किया गया आम बजट में आत्मनिर्भर भारत पर जोर दिया गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लगतार तीसरा बजट पेश किया है। इस बार के बजट में करदाताओं के लिए कोई खास घोषणा नहीं की गई, लेकिन 75 साल या उससे अधिक उम्र के लोगों को जरूर रियायत दी गई है। बजट में एलान किया गया कि 75 साल से अधिक उम्र के लोगों को इनकम टैक्स भरने की जरूरत नहीं होगी। सरकार ने टैक्स स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया है। निर्मला सीतारमण ने ऐलान किया कि एनआरआई लोगों को टैक्स भरने में काफी दिक्कतें होती थीं, लेकिन अब इस बार उन्हें डबल टैक्स सिस्टम से छूट दी जा रही है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने घोषणा की है कि स्टार्ट अप को जो टैक्स में शुरुआती छूट दी गई थी, उसको अब 31 मार्च, 2022 तक बढ़ा दिया गया है।

आत्मनिर्भर भारत की ओर बढ़े कदम

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि कोविड-19 महामारी का मुकाबला करने के लिए सरकार के 27.1 लाख करोड़ रुपये के आत्मनिर्भर भारत पैकेज से देश में सुधारों को बढ़ावा मिला है। वित्त मंत्री ने आम बजट में 64,180 करोड़ रुपये से आत्मनिर्भर स्वास्थ्य कार्यक्रम शुरू करने का प्रस्ताव रखा। यह राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अलावा होगा। वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि भारत में फिलहाल कोविड-19 के दो टीके मौजूद हैं और दो अन्य टीकों को जल्द पेश किया जाएगा।