/

आपसी संघर्ष में हिबतुल्लाह अखुंदजादा की मौत, मुल्लाह बरादर को बनाया बंधक

Start

Taliban: ब्रिटेन की एक मैगजीन ने दावा किया है कि तालिबान में हुए आपसी खूनी संघर्ष में तालिबान के सर्वोच्च नेता हिबतुल्लाह अखुंदजादा की मौत हो गई है और उप प्रधानमंत्री मुल्लाह बरादर को बंधक बना लिया गया है। मैगजीन का यह दावा है कि यह सत्ता संघर्ष पाकिस्तान समर्थित गुट हक्कानी के साथ हुआ है।

हक्कानी गुट से हुई झड़प

ब्रिटेन की इस मैगजीन में बताया गया है कि सत्ता के लिए संघर्ष कर रहे तालिबान में सत्ता पाने के बाद पद के लिए खूनी खेल शुरू हुआ। सत्ता हथियाने के इस खेल में तालिबान के सर्वेसर्वा हिबतुल्लाह अखुंदजादा की मौत हो गई। अफगानिस्तान के इस सत्ता संघर्ष में सबसे ज्यादा नुकसान मुल्लाह बरादर गुट को हुआ है। पाक समर्थन से हक्कानी गुट भारी पड़ा है। मैगजीन के मुताबिक सितंबर महीने में तालिबान के दोनों धड़ों की बैठक हुई थी। उस वक्त एक मौका ऐसा भी आया जब हक्कानी गुट के नेता खलील-उल रहमान हक्कानी ने मुल्लाह बरादर की पिटाई कर दी थी।

मुल्ला बरादर है लापता

पाक समर्थित हक्कानी गुट कट्टरवाद की वकालात करता है, जबकि मुल्ला बरादर तालिबान सरकार के कैबिनेट में गैर-तालिबानियों और अल्पलसंख्यकों को भी जगह देने की बात कह रहा था, जिससे अंतराष्ट्रीय समर्थन के साथ तालिबान सरकार को मान्यता मिल जाए। इस विवाद के बाद से मुल्ला बरादर लापता था औऱ उसको आखिरी बार कंधार में देखा गया था। हालांकि, बरादर ने एक वीडियो संदेश भी जारी किया था, लेकिन माना जा रहा है कि यह वीडियो दबाव डालकर बनवाया गया था। अखुंदजादा भी लंबे समय से लापता है इसलिए इस बात के कयास लवगाए जा रहे हैं कि उसकी आपसी संघर्ष में मौत हो चुकी है।