////

अंधे कत्ल का हुआ पर्दाफाश, दोस्त ने इसलिए उतारा था मौत के घाट

सुपर कॉरिडोर की तरफ लाश को कंबल में लपेट कर फेंक दिया था।

इंदौर: इंदौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र में हुए अंधे कत्ल का खुलासा करते हुए पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। एसपी पूर्व के अनुसार मृतक पेशे से ड्राइवर था। मृतक के दोस्त ने अपने साथियों के साथ मिलकर ट्रक डकैती के चलते युवक को मौत के घाट उतार कर सुपर कॉरिडोर तरफ लाश को कंबल में लपेट कर फेंक दिया था। आरोपियों ने लूटा गया माल आधी कीमत में बेच दिया। उक्त माल को खरीदने वाले दो लोगों को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है फिलहाल पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

गला घोट कर की थी हत्या

दरअसल पूरी घटना 18 फरवरी को बाणगंगा थाना क्षेत्र के लव कुश चौराहे के पास सुपर कॉरिडोर रोड की है। यहां पर सर्विस रोड के बीच बनी पुलिया के नाले में कंबल से लिपटी हुई एक अज्ञात लाश मिली थी। शॉर्ट पीएम रिपोर्ट में मृतक का गला घोट कर हत्या करने का बात सामने आई थी, जिसके बाद पुलिस ने हत्या का प्रकरण दर्ज करते हुए आरोपियों की तलाश शुरू की।

लूट का माल हुआ बरामद

मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए हत्या के आरोपी, भोनल मालवीय, कमलेश चौहान, प्रकाश गहलोत, अंतर सिंह गहलोत को गिरफ्तार किया। आरोपियों से पूछताछ के बाद मृतक की पहचान गोलू चौहान के रूप में हुई। एसपी पूर्व आशुतोष बागरी के अनुसार पकड़ाये आरोपियों में एक मृतक का दोस्त है जिसने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर ट्रक डकैती की नियत से गोलू चौहान की गला घोटकर हत्या की, फिर कंबल में बांधकर शव को सुपर कॉरिडोर क्षेत्र में फेंक दिया। लूटा गया सरिया आधी कीमत में आरोपियों द्वारा बेच दिया गया था। पुलिस ने उक्त माल खरीदने वाले दो अन्य लोगों को भी गिरफ्तार कर लिया है।