//

केरल में बिशप ने कहा,’ लव जिहाद के जरिए आतंकवाद में धकेली जा रही है गैर मुस्लिम लड़कियां’

Start

कोट्टायम: केरल में एक बार फिर लव जिहाद को लेकर बयान सामने आया है। एक कैथोलिक बिशप ने लव जिहाद को लेकर कहा है कि एक वर्ग विशेष लड़कियों को अपने जाल में फंसाकर उनको आतंक की आग में झोक रहा है। आतंकी गैरमुस्लिम धर्मों को तहस-नहस करने के लिए अलग-अलग तरकीब अपना रहे हैं।

साजिश के तहत चलाया जा रहा है लव जिहाद

केरल में एक बार फिर लव जिहाद को लेकर एक कैथोलिक बिशप ने आरोप लगाते हुए कहा है कि केरल में लव जिहाद साजिश के तहत चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की गैर मुस्लिम विशेषकर ईसाई लड़कियां बड़ी संख्या में ‘लव जिहाद और नार्कोटिक जिहाद के जाल में फंस रही हैं। जहां हथियारों का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता, वहां आतंकी इस तरह के हथकंडों से दूसरे धर्म की लड़कियों का जीवन बर्बाद कर रहे हैं। इस तरह जिहादी प्यार का नाटक कर इन लड़कियों का दुरुपयोग आतंकी गतिविधियों या आर्थिक लाभ के लिए करते हैं। ऐसे जिहादियों का लक्ष्य गैर-मुस्लिमों का खात्मा और अपने धर्म को बढ़ाना है। आतंकियों के लिए यह युद्ध की रणनीति है।

गैर मुस्लिम है निशाने पर

सायरो मालाबार चर्च से जुड़े पाला बिशप मार जोसेफ कल्लारनगट्ट ने आरोप लगाया कि ‘लव जिहाद के तहत गैर मुस्लिम लड़कियों, विशेष रूप से ईसाई समुदाय की लड़कियों का धर्मातरण करवाकर उनका शोषण किया जा रहा है। लव जिहाद में फंसाकर इन लड़कियों का इस्तेमाल आंतकी गतिविधियों में किया जा रहा है। पाला बिशप मार जोसेफ कोट्टायम जिले में कुरूविलंगड में एक चर्च समारोह में श्रद्धालुओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि जिहादी जानते हैं कि भारत जैसे लोकतांत्रिक देश में हथियारों के जरिए अन्य धर्मों के लोगों को बबार्द करना आसान नहीं है, इसलिए वे अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए इस तरह के अन्य हथकंडे अपना रहे हैं।