///

भय्यू महाराज की बेटी कुहू ने कहा, आयुषी पिता की दूसरी पत्नी मां नहीं

कुहू ने आश्रम द्वारा आयोजित कार्य़क्रम में न बुलाने पर एतराज जताया है।

इंदौर। आध्यात्मिक गुरु स्वर्गीय भय्यू महाराज की आत्महत्या के बाद पहली बार उनकी बेटी कुहू दत्त जयंती महोत्सव के आयोजन में भाग लेने इंदौर पहुंची। पहली बार आश्रम के कार्यक्रम में हिस्सा लेने आई कुहू ने कई मामलों पर बेबाकी से अपनी बात रखी।

पिता की दूसरी शादी पर फिर जताया एतराज

भय्यू महाराज के देहांत के बाद पहली बार उनकी बेटी कुहू ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि फिलहाल अपनी पढ़ाई जारी रखने के साथ अब आश्रम से जुड़े मसलों पर भी वो ध्यान देगी। गौरतलब है कि ट्रस्ट का सदस्य बनने के लिए जहां कुहू आवेदन कर चुकी है, वही पिता की आत्महत्या के मामले में अब सीबीआई जांच की मांग करने की बात भी वह कह रही है। अपने पिता की दूसरी शादी पर नाराजगी जाहिर करते हुए उसने कहा है कि डॉक्टर आयुषी उसके पिता की दूसरी पत्नी तो है, लेकिन वह उसकी मां नहीं है। पारिवारिक तनाव के बीच न्यायालय पर भरोसा जाहिर करते हुए कुहू ने कहा कि न्याय पालिका पर उसे पूरा भरोसा है। पिता की मौत के मामले में सीबीआई जांच से ही सच्चाई सामने आ सकती है, क्योंकि पिता ने कभी किसी तनाव या परेशानी का जिक्र मौत के पहले नहीं किया था।

भविष्य में ट्रस्ट के संचालन की कही बात

कुहू के मुताबिक पिता की मौत के 7 दिन पहले वे लोग साथ में थे, लेकिन उस वक्त किसी तनाव की बात सामने नहीं आई थी। वही एक बार फिर कुहू ने पिता की दूसरी शादी पर भी एतराज जताते हुए कहा कि उनके पिता ने कभी दूसरी शादी करने की बात नहीं कही थी, अचानक शायद किसी दबाव में ही पिता ने दूसरी शादी की थी। वही आश्रम द्वारा आयोजित किए जाने वाले कार्यक्रमों में उसे नहीं बुलाने पर भी कुहू ने नाराजगी जाहिर की और कहा कि भविष्य में वे ट्रस्ट के संचालन को समझ कर उसका सुचारू रूप से संचालन करने का प्रयास करेगी।