///

कलेक्टर के आदेश के बाद उज्जैन में छापे की कार्रवाई शुरू

उज्जैन कलेक्टर ने मिलावटखोरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

उज्जैन। उज्जैन के थाना चिमनगंज क्षेत्र स्तिथ ढांचा भवन इंडस्ट्रियल एरिया में Gajmark The Total pharma solutions पर एडीएम, खाद्य विभाग, आयुष विभाग व अन्य जांच दल के द्वारा छापामार कार्यवाई को अंजाम दिया गया है। कार्रवाई के दौरान जांच दल को नामी ब्रांडेड कंपनी के प्रोडक्ट बिना किसी लिखित अनुमति के अस्वच्छ अवस्था में और अनियमित तरह से रखे हुए पाए गए।

इस मामले में एसडीएम नरेंद्र सूर्यवंशी ने बताया कि खाद्य एवं आयुष विभाग ने यह छापे की कार्रवाई की है। छापे में कंपनी में कई तरह की अनियमितताएं पाई गई है। कंपनी में सिरप, सेनेटाइजर आदि का निर्माण किया जाता है। इससे पहले बुधवार को कलेक्टर आशीष सिंह ने बृहस्पति भवन में सभी विभागों के अधिकारियों की बैठक ली थी। बैठक के दौरान कलेक्टर ने अधिकारियों को चेकिंग कर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। उन्होंने कहा था कि अपराधी और असामाजिक तत्व किसी भी रूप में बचना नहीं चाहिए। इस अवसर पर उन्होंने मिलावटखोरों पर लगाम लगाने के लिए सख्त उपाय करने की बात कही थी।

कलेक्टर आशीष सिंह ने कहा था कि मिलावटखोरी करने वाले बड़े माफियाओं पर एफआईआर की कार्यवाही की जाये। जरूरत पड़ने पर रासुका की कार्यवाही भी की जायेगी। नापतौल अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि वे अपने नियमित निरीक्षण जारी रखें न केवल दुकानों व बड़े तौलकांटों की जांच करें, बल्कि पेट्रोल पम्प, बड़ी संस्थाओं, गैस एजेन्सियों आदि पर भी निरीक्षण कर वजन एवं माप का परीक्षण करें। गौरतलब है प्रदेश में कई जगहों पर मिलावटखोरी के कई मामले सामने आए हैं। जिसमें कई मामलों में लोगों की जान के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। मिलावट का मामला मिलने पर संबंधित विभाग ने सख्त कार्रवाई करते हुए भारी मात्रा में मिलावटी माल जब्त करने के साथ मिलावटखोरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई भी की है।