//

इस टुर्नामेंट से BCCI को हो सकती है पांच हजार करोड़ रुपए की कमाई

Start

नई दिल्ली। बीसीसीआई घरेलू टी-20 लीग आईपीएल को लेकर बड़ी तैयारी कर रहा है। अगले सीजन से आईपीएल 2022 में 8 की जगह 10 टीमें उतरेंगी। बोर्ड ने एक टीम का बेस प्राइज लगभग दो हजार करोड़ रुपए रखा है। ऐसे में उसे दो टीमों से लगभग 5 हजार करोड़ रुपए मिल सकते हैं। अगले सीजन से 60 की जगह 74 मैच खेले जाएंगे। मौजूदा सीजन के बचे 31 मुकाबले 19 सितंबर से यूएई में होने हैं। आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की हाल की बैठक के दौरान इसकी बोली प्रक्रिया को अंतिम रूप दिया गया। बीसीसीआई सूत्रों के मुताबिक कोई भी कंपनी 75 करोड़ रुपए देकर बोली दस्तावेज खरीद सकती है। पहले 2 नई टीमों का आधार मूल्य 1700 करोड़ रुपए रखने पर विचार किया जा रहा था, लेकिन अब आधार मूल्य 2000 करोड़ रुपए करने का फैसला किया गया है।

मैचों की संख्या में होगी बढ़ोतरी

आईपीएल के वित्तीय पक्ष को देखने वाले सूत्र ने बताया कि यदि बोली प्रक्रिया योजना के अनुसार आगे बढ़ी तो बीसीसीआई को कम से कम 5000 करोड़ रुपए का लाभ होगा, क्योंकि कई कंपनियां बोली प्रक्रिया में दिलचस्पी दिखा रही हैं। अगले सीजन में आईपीएल में 74 मैच होंगे और यह सभी के लिए फायदे वाली स्थिति होगी।

बोली प्रक्रिया के लिए विशेष नियम

पता चला है कि सालाना 3000 करोड़ रुपए या इससे अधिक का टर्न ओवर रखने वाली कंपनियों को ही बोली प्रक्रिया में शामिल होने की अनुमति दी जाएगी। यही नहीं बीसीसीआई कंपनियों के समूह को भी टीम खरीदने के लिए अनुमति देने की योजना बना रहा है। इससे बोली प्रक्रिया अधिक रोचक बन जाएगी। सूत्र ने कहा कि मुझे लगता है कि तीन से अधिक कंपनियों को समूह बनाने की अनुमति नहीं दी जाएगी, पर यदि तीन कंपनियां साथ में आकर एक टीम के लिए बोली लगाना चाहती हैं तो ऐसा करने के लिए उनका स्वागत है। नई टीमों जो आधार स्थल होंगे, उनमें अहमदाबाद, लखनऊ और पुणे भी शामिल हैं। अहमदाबाद का नरेंद्र मोदी स्टेडियम और लखनऊ का इकाना स्टेडियम फ्रेंचाइजी की पसंद हो सकते हैं, क्योंकि इन स्टेडियमों की क्षमता अधिक है।