//

साकेत एसोसिएशन में घोटाले का आरोप, लाखों रुपए की हुई गड़बड़ी

इंदौर। इंदौर में साकेत एसोसिएशन की गतिविधियों को लेकर विवाद छिड़ गया है। कुछ रहवासियों ने आनिमिताओ को लेकर मोर्चा खोल दिया है। एसोसिएशन के वरिष्ठ सदस्यों ने लाखों रुपए की गड़बड़ी का आरोप लगाया है।

इंदौर के सालों पुराने साकेत एसोसिएशन में अनियमितताओं को लेकर कई रहवासियों ने तत्कालीन अध्यक्ष सहित सचिव के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। एसोसिएशन के वरिष्ठ सदस्यों ने लाखों रुपए की गड़बड़ी का आरोप लगाया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष कमलेश सोजतिया कोषाध्यक्ष जगदीश शाह सहित एसोसिएशन से जुड़े राजेश अग्रवाल पर गंभीर आरोप हैं। उनका कहना है कि एसोसिएशन के आधीन ना तो बगीचे के बिजली का बिल भरा जा रहा है और सालों से किसी भी तरह का एसोसिएशन का ऑडिट तक नहीं कराया गया है।

रहवासियों ने आनिमिताओ को लेकर मोर्चा खोला

इसी के साथ एसोसिएशन के आधीन बगीचा और हॉल में चौकीदारी का करीबन 12 सालों से काम संभाल रहे चौकीदार का कहना है कि पिछले 9 महीने से कोई भी वेतन नहीं दिया गया है। इसके अलावा स्वच्छता कर्मचारि, बगीचे का माली वन्य कर्मचारियों को महीनों से वेतन नहीं दिया जा रहा है। इसी को लेकर पलासिया थाना में शिकायत दर्ज कराई गई है। एसोसिएशन को लेकर वरिष्ठ रहवासियों का कहना है कि यहां पर किसी भी तरह की कोई सुविधा उपलब्ध नहीं कराई जा रही है निगम सहित अन्य प्रशासन अधिकारी को इस एसोसिएशन को अपने अधीन लेना की आवश्यकता है ताकि एसोसिएशन को सुचारू रूप से संचालित किया जा सके और रहवासियों को संपूर्ण सुविधा मिल सके।

रहवासियों ने आनिमिताओ को लेकर मोर्चा खोला

बता दें कि साकेत के गरबे इंदौर सहित पूरे प्रदेश में काफी मशहूर है यहां पर परंपरागत तरीके से गरबे किए जाते थे लेकिन अब यहां की स्थिति काफी बस से बदतर हालत में है। एसोसिएशन के पास काफी सारा लाखों में रुपया है और वह बिजली का बिल तक नहीं भर पा रहा और वहीं कर्मचारियों को महीनों से वेतन नहीं दिया जा रहा है।

इंदौर से मृदुभाषी के लिए चंकी बाजपेई की रिपोर्ट