///

जान बचाने वाले सैनिटाइजर से हुआ हादसा, बच्ची की हुई मौत

दो बुजुर्ग दंपत्ति और दो बच्चे झुलस जल गए थे।

इंदौर। पिछले दिनों इंदौर में एक ही परिवार के चार लोग आग लगने से झुलस गए थे, जिन्हें तत्काल अस्पताल ले जाया गया। लेकिन इलाज के दौरान परिवार की 3 वर्ष की मासूम बच्ची ने गुरूवार को दम तोड़ दिया। लेकिन चौकाने वाली बात ये है की पुरे परिवार के झुलसने के कारण सैनिटाइजर बताया जा रहा है।

सैनिटाइजर की बड़ी बोतल से लगी थी आग

इंदौर के शनि मंदिर इलाके में आग लगने के कारण 2 बुजुर्ग दंपत्ति और दो बच्चे जल गए थे। घटना के चश्मदीद द्वारा बताया गया था कि पत्नी खाना पका रही थी तभी वहां आग लग गई आग लगने का कारण हाथ में लगे सैनिटाइजर बताया जा रहा है। जब हाथ में आग लगी तभी पास में रखी सैनिटाइजर की बड़ी बोतल हड़बड़ाहट में गिर गई और वहां मौजूद दंपति सहित दो अन्य लोग आग की चपेट में आ गए, उसमें एक 3 वर्ष की बच्ची भी थी जिसकी इलाज के दौरान गुरुवार को मौत हो गयी।

गौरतलब है इससे पहले भी देश के कुछ हिस्सों में सैनिटाइजर की वजह से आग से झुलसने की घटनाएं सामने आई है। सैनिटाइजर में अल्कोहल होने की वजह से जैसे ही लोग उसको अपने हाथों में लगाकर आग के पास जाते हैं वो झुलस जाते हैं इसलिए खासकर ठंड के मौसम में सैनिटाइजर लगाने के बाद आग के नजदीक जाने से परहेज करें।