//

इंदौर में भू-माफिया के खिलाफ अभियान शुरू, कनाड़िया रोड पर अवैध रिवाज और प्रेमबंधन गार्डन ध्वस्त

Start

इंदौर। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देशों पर इंदौर में प्रशासन ने शुक्रवार को भू-माफिया के खिलाफ अभियान शुरू किया और अवैध निर्माण गिराकर करीब 38 एकड़ सरकारी जमीन मुक्त कराई। इस भूमि का बाजार मूल्य 1,000 करोड़ रुपए से अधिक है। जिला प्रशासन, इंदौर नगर निगम (आईएमसी) और पुलिस की संयुक्त मुहिम के दौरान कनाड़िया रोड पर सीलिंग की सरकारी जमीन पर पर अवैध रूप से बनाए गए दो बड़े मैरिज गार्डन भी गिराए गए।

90 दुकाने भी हुई ध्वस्त

आईएमसी के उपायुक्त संदीप सोनी ने बताया कि भू-माफिया के खिलाफ शुरू की गई मुहिम के तहत कनाड़िया रोड पर सरकारी जमीन पर अवैध रूप से बनाई गईं करीब 90 छोटी-बड़ी दुकानों को भी ढहा दिया गया। अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री चौहान ने हाल ही में स्थानीय प्रशासन को निर्देश दिए थे कि भू-माफिया के खिलाफ अभियान चलाकर सरकारी जमीन से अतिक्रमण हटाया जाए। यह कार्रवाई तब की गई जब स्थानीय लोग सुबह सोकर भी नहीं उठ पाए थे। इतना ही नहीं इस अभियान के तहत गार्डन के साथ ही इन गार्डन के मालिकों के परिवार के दो-तीन मकानों पर भी बुलडोजर चलाया गया है। इन पर बुलडोजर इसलिए चलाया गया क्योंकि, इनका निर्माण अवैध तरीके से किया गया था और यह दोनों गार्डन शासकीय सीलिंग की जमीन पर बनाए गए थे। अतिक्रमण ध्वस्त करने की करवाई पर ड्रोन कैमरों के माध्यम से नजर रखी गई।

ये थे गार्डन के मालिक

तोड़ा गया प्रेम बंधन गार्डन सलीम पटेल का और रिवाज गार्डन सोहराब पटेल का बताया जा रहा है। नगर निगम, प्रशासन और पुलिस द्वारा की गई इस संयुक्त कार्रवाई के लिए गुरुवार की रात से ही पूरी तैयारियां कर ली गईं थीं और सुबह होते ही सभी टीमें अपने काम में लग गईं। इस कार्रवाई के तहत रिवाज गार्डन का ऑफिस भी तोड़ दिया गया, जबकि प्रेम बंधन गार्डन के बाहर लगने वाली छोटी-छोटी सभी दुकानें और ठेले भी हटा दिए गए।

इतना अमला लगा कारवाई में

-80 सिपाही
-04 थाना प्रभारी
-02 एएसपी
-100 निगमकर्मी
-नगर निगम के अपर आयुक्त, अपर कलेक्टर, एसडीएम और तहसीलदारों की टीम भी शामिल थी।
दोनों गार्डन का एरिया
-470 वर्गमीटर यानी पांच हजार वर्गफीट में फैला था प्रेम बंधन गार्डन।
-4 हजार वर्गफीट अवैध निर्माण किया था रिवाज गार्डन ने।

वाहनों की आवाजाही रोकी

अधिकारियों ने बताया कि कार्रवाई शुक्रवार सुबह करीब 6 बजे शुरू की गई। कनाड़िया रोड पर वाहनों की आवाजाही रोककर कार्रवाई की गई। कोई भी पक्ष विरोध करने नहीं पहुंचा। कनाड़िया रोड पर 750 मीटर लंबाई में दोनों तरफ 150 अवैध निर्माण तोड़े गए।

गुंडों के निर्माण पर भी चलेगा बुलडोजर

प्रशासन ने गुंडों के अवैध निर्माण पर भी बुलडोजर चलाने की तैयारी कर ली है। प्रशासन ने पिछले भूमाफिया अभियान के दौरान कई गुंडों के अवैध निर्माण तोड़े थे, लेकिन मामला कोर्ट में जाने के बाद कार्रवाई रोक दी गई थी। कोर्ट ने वषार्काल का हवाला देते हुए कार्रवाई पर रोक लगा दी थी। 30 सितंबर को मानसून की रवानगी मानी जाती है। इसके बाद निगम और प्रशासन एक बार फिर गुंडों के अवैध निर्माण के खिलाफ मुहिम चला सकते हैं। जिनके अवैध निर्माण पर कार्रवाई की जाना है उनकी सूची भी तैयार कर ली गई है।

मूल्य की पुष्टि

हमने इस अभियान के दौरान शहर के कनाड़िया रोड पर कुल 38 एकड़ सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण ढहाए। अतिक्रमण से मुक्त कराई गई इस जमीन का वर्तमान बाजार मूल्य करीब 1,000 करोड़ रुपए है। -पवन जैन, एडीएम इंदौर

पूरी तरह अवैध

रिवाज गार्डन पूरी तरह अवैध है और प्रेमबंधन गार्डन को 1998 में जालसाजी से पंचायत से ली गई अनुमति के आधार पर बनाया गया था । भूमाफियाओं ने जो बिल्डिंग परमिशन बताई, उसमें सरपंच के हस्ताक्षर हैं जबकि सचिव के हस्ताक्षर भी होने चाहिए। माफियाओं और तत्कालीन सरपंच के खिलाफ एफआईआर कराई जाएगी। –संदीप सोनी, अपर आयुक्त