////

लम्बे इंतज़ार के बाद हुआ मंत्रिमंडल का विस्तार

भोपाल । 28 विधानसभा के उपचुनाव के परिणाम आने के 2 महीने के बाद आज मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ। राजभवन में राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत मंत्री पद की शपथ दिलाई। दोनों मंत्रियों के शपथ कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा, गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस राजभवन में मौजूद रहे। कैबिनेट में अब भी 4 पद खाली बचे हैं।

दोनों सिंधिया समर्थकों में से जहां एक तरफ मंत्री तुलसीराम सिलावट का कहना है कि किसान का विकास और उनकी उन्नति मेरा पहला संकल्प है। साथ ही युवाओं का और समाज का आखिरी व्यक्ति का भी विकास हो।

वहीं दूसरी ओर गोविंद सिंह राजपूत का कहना है कि ईश्वर से यही अपेक्षा है कि मैं आपकी उम्मीदों पर हमेशा खरा उतरु। वहीं मिलने वाले विभाग को लेकर मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने कहा कि जो भी विभाग हो यह मुख्यमंत्री का अधिकार है मैं इस पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता।

वहीं मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने आज शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल के पुनर्गठन पर सवाल उठाते हुए कहा कि आज का मंत्रिमंडल का पुनर्गठन देखकर यह स्पष्ट हो गया है कि मध्य प्रदेश में एक मजबूत नहीं ,बल्कि असहाय और मजबूर मुख्यमंत्री कुर्सी पर बैठे हैं जो कुछ लोगो के दबाव में मंत्री पद बाँट रहे हैं।