/////

गुना को इस उद्योगपति ने दिया ऑक्सीजन का बम्पर स्टॉक, विधायक जयवर्धन सिंह की कोशिश का दिखा असर

राउरकेला स्थित ऑक्सीजन प्लांट से 16 टन प्राणवायु गुना के लिए रवाना कर दी गई।

Corona Second Wave: कोरोना संक्रमण के लिए इस समय प्राणवायु यानी ऑक्सीजन की सबसे ज्यादा जरूरत है। ऑक्सीजन की कमी से देशभर में मरीजों की मौत होने की खबरें सामने आ रही हैं। गुना जिले में फिलहाल इस तरह के हालात नहीं हैं और आगे भी न बनें, इसके लिए राघौगढ़ विधायक जयवर्धन सिंह के प्रयासों से मशहूर उद्योगपति नवीन जिंदल ने गुना जिले को 16 टन ऑक्सीजन की खेप उपलब्ध् कराई है।

विधायक जयवर्धन सिंह ने की कोशिश

दरअसल, जिले के अस्पतालों में ऑक्सीजन के कम प्रेशर की शिकायतें मरीजों द्वारा की जा रही थीं। आशंका जताई जा रही थी कि जिले में ऑक्सीजन की कमी होने वाली। यह जानकारी मिलते ही राघौगढ़ विधायक जयवर्धन ने बिना देरी किए देश के नामचीन उद्योगपति नवीन जिंदल को इस समस्या से अवगत कराया और जिंदल ने भी मानवता का परिचय देते हुए जयवर्धन सिंह के आग्रह पर तुरंत उड़ीसा के राउरकेला स्थित जिंदल ऑक्सीजन प्लांट से 16 टन प्राणवायु गुना के लिए रवाना कर दी।

गुना पहुंचा ऑक्सीजन से भरा हुआ टैंकर

लिक्वड ऑक्सीजन से भरा हुआ यह टैंकर आज गुना पहुंच गया है। राघौगढ़ विधायक और कांग्रेस नेताओं ने कुशमौदा पहुंचकर इस टैंकर को सांवरिया ऑक्सीजन प्लांट तक पहुंचाया। इसके बाद जिला प्रशासन के मार्गदर्शन में ऑक्सीजन का वितरण गुना जिले के अस्पतालों में किया जाएगा। 16 टन ऑक्सीजन से लगभग 1500 सिलेंडर भरे जा सकते हैं। इसलिए अनुुमान लगाया जा रहा है कि गुना जिले सभी अस्पतालों में पांच से छह दिन तक ऑक्सीजन की किसी तरह के किल्लत नहीं होगी। ऑक्सीजन का उपयोग प्राथमिकता के आधार पर गुना, राघौगढ़, कुंभराज, चांचौड़ा सहित आसपास के अस्पतालों में होगा। इसके अलावा 300 सिलेंडर राजगढ़ भेजे जाएंगे और लगभग 100 सिलेंडर अशोकनगर भी वितरित होंगे।

गुना में कलेक्टर हुए संक्रमित

गुना जिले में कोरोना की लहर थमने का नाम नहीं ले रही है। शुक्रवार को भी जिले में 66 नए कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं। कोरोना संक्रमितों में गुना कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम भी शामिल है। कलेक्टर लम्बे समय से कोरोना संक्रमण को नियंत्रण करने के लिए स्वास्थ्य अमले के सम्पर्क थे। इसके अलावा वह लगातार प्रशासनिक बैठकें भी ले रहे थे। इससे पहले कलेक्टर की धर्मपत्नी भी कोरोना संक्रमित पाई गई थीं। शुक्रवार को आई जांच रिपोर्ट में शहर के जाने-माने चिकित्सक डॉ. गौरव तिवारी भी शामिल हैं। हालांकि पिछले 15 दिनों में शुक्रवार को कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा सबसे सामने आया। इससे पहले प्रतिदिन गुना जिले में 100 या इससे अधिक कोरोना पॉजीटिव मरीज मिल रहे थे।