///

कोरोना के 500 केस, बाज़ार से भीड़ नदारद

इंन्दौर। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी में कोरोना ने एक बार फिर व्यापारी जगत को परेशान करना शुरू कर दिया है। दरअसल, बीते 8 दिन से लगातार 500 से ज्यादा कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए है और प्रशासन ने कोरोना पर लगाम कसने के लिए कुछ प्रतिबन्ध भी लगाए जिसके तहत शहर मे नाइट कर्फ्यू के अलावा बाजार को 8 बजे बन्द करने का फैसला लिया गया। जिससे व्यापारी वर्ग परेशान है।

इधर, अपने जायके के लिए मशहूर इंदौर में खान पान के बाजार में कोरोना के डर की वजह से भीड़ गायब हो गई है वही दूसरी और जल्दी बाजार बन्द होने से गारमेंट्स सेक्टर बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। न तो इंदौर के 56 बाजार पर लोगो की भीड़ स्वाद का लुत्फ उठा रही है और ना ही इंदौर के प्रसिद्ध अपोलो टॉवर में पार्टी वियर कपड़ो की खरीदी हो रही है। गारमेंट सेक्टर में विक्रेता एक तो कोरोना को कारोबार आधा करने का जिम्मेदार मान रहे है। वही दूसरी ओर प्रशासन के प्रतिबन्ध के कारण उनमे नाराजगी का माहौल है। पार्टी वियर कलेक्शन की संचालिका नीलम चावला ने व्यापारियो के दर्द को बयां कर कहा कि उन्हें 12 दिसम्बर तक चलने वाले वैवाहिक सीजन तक साढ़े 9 बजे तक दुकान चालू रखने की मांग रखी।

] शहर के व्यापार ने लॉक डाउन के बाद थोड़ी सांस भरी ही थी की एक बार फिर बाज़ार पर वक्त की पाबंदी ने दोहरी मार करदी है। अब देखना यह होगा की वक्त की पाबंदी से कोरोना केसेस में कितनी कमी आती है।